Featured

बस्‍तर प्रहरी में आपका स्‍वागत है.

बुधवार, 19 सितंबर 2012

कांकेर कलेक्टर ने दिये जांच के आदेश: न्यू कम्यूनिटी हाल में किया गया था भ्रष्टाचार....


दिवाल में दारारे तथा पानी का रिसाव होना पालिका के चहेते ठेकेदार ध्यानचंद के कारनामें थे..
कांकेर-नगरपालिका के चहेते ठेकेदार द्वारा भ्रष्टाचार का खुला अभ्यारण बना कर भ्रष्टाचार को अंजाम देते हुए गुणवत्ताहीन सामाग्रियों का उपयोग कर नवनिर्मित कम्यूनिटी हाल की दिवारों में दरारे  तथा पानी का रिसाव हो रहा था। जिसे  बस्तर प्रहरी  द्वारा प्रमुखता से प्रकाशित किया गया था, पालिका के दफ्तर में बैठे नामचिन कर्णधारों ने मामले को रफा-दफा करने की भरपुर कौशिश की गईथी.. कांकेर  कलेक्टर अलरमेल मंगई डी ने तत्पर्यता दिखाते हुए जांच के आदेश दिये है, और जल्द-से-जल्द रिपोर्ट सौंपने को कहा गया है।  

पालिका के चहेते ठेकेदार ध्यानचंद केवलरमानी के भ्रष्ट कारनामों का भी जांच हो..
जांच सिर्फ और सिर्फ दिवाल में दरार और पानी रिसाव का ही नही बल्कि पालिका के भ्रष्ट करतूतों की भी जांच होनी चाहिए, जो बार-बार उसी ठेकेदार को निविदाएं तथा पालिका का काम दिया जाता है..और वह ठेकेदार मस्त मौला बन कर अनेक गुणवत्ता हीन निर्माण कार्याे को अंजाम देते हुए भ्रष्टाचार करने मेें लगा रहता है। जानकार सूत्रो से मिली जानकारी के अनुसार नगर के गौरव पथ मे हुई थांथली की न्यायलय में मामला चल रहा है..लेकिन ये ठेकेदार को पालिका के नामचिन अफसर काम पर काम दिये चले जा रहे है। और ठेकेदार भ्रष्ट निर्माण कार्यो को अंजाम देते चले आ रहे है। ठेकेदार के विरूद्ध उचित कार्यवाही करते हुए..पालिका से बार-बार उसी ठेकेदार को काम क्यों दिया जाता है उसकी भी जांच होनी चाहीए। पालिका का हर काम मिलने का ठेका तो इस ठेकेदार को मिला होगा ऐसा तो नही है।